योगी ने दर्शन के लिए अकबर किले के द्वार खोल दिए

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को प्रयागराज में पौराणिक महत्व के अक्षय वट के दर्शन के लिए अकबर के किले के द्वार खोल दिए. इस दौरान उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व अन्य मंत्री भी उपस्थित रहे. कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी ने अक्षयवट का दर्शन पूजन किया. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पन्द्रहवें अप्रवासी भारतीय सम्मेलन में आए प्रवासी कुम्भ में आयेंगे. ये अप्रवासी भारतीय टेंट सिटी में ही रुकेंगे. उन्होंने कहा कि पिछले 50 वर्षों में सबसे अच्छा जल संगम में है. पूरे आयोजन में इसी तरह स्वच्छ गंगा जल उपलब्ध होगा. गंगोत्री से लेकर प्रयागराज तक गंदे नालों को गंगा में गिरने से रोका गया है. श्रद्धालुओं के लिए अक्षयवट खुलने से गौरव की अनुभूति हो रही है.

इस दौरान सीएम योगी ने मीडिया सेंटर का उद्घाटन भी किया. सीएम योगी ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े समागम को भव्य और दिव्य बनाने का प्रयास किया है. इस प्रयास में मीडिया का पूरा सहयोग मिला. मेला पूरी भव्यता और दिव्यता से आगे बढ़े, इसके लिए डेढ़ वर्ष पूर्व कार्ययोजना तैयार की गई थी.

योगी ने कहा कि हजारों साल बाद प्रयागराज कुम्भ को वैश्विक मान्यता मिल रही है. 15 दिसम्बर को 71 देशों के राजनयिकों ने वैश्विक मान्यता दी. पहली बार कुम्भ मेले की शुरुआत गंगा मां की पूजा के साथ पीएम मोदी ने की. हमारी कोशिश है कि यह कुम्भ देश व दुनिया में स्वच्छ और सुरक्षित कुम्भ का संदेश दे सके.

उन्होंने कहा कि 450 वर्षों के बाद अक्षयवट और सरस्वती कूप श्रद्धालुओं के लिए खोला गया है. केन्द्र और प्रदेश सरकार ने प्रयाग राज के विकास का कार्य किया है. इसमें जल, थल और नभ से आवागमन की सुविधा प्रदान की जा रही है. 15 फ्लाईओवर, अण्डर ब्रिज बने, 264 सड़कों का चौड़ीकरण हुआ है. चौराहों का भी चौड़ीकरण और सौन्दर्यीकरण किया गया है. मेला क्षेत्र का एरिया बढ़ाया गया है. 22 पान्टून ब्रिज बनाए गए हैं.

Category: ख़ुलासा

About ई टीवी उत्तराखंड

Etv Uttarakhand हम डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा समाचारों, विचारों, साक्षात्कारों की नई श्रृंखला के साथ- साथ खोजी ख़बरों को कुछ हटकर पाठकों तथा दर्शकों के सामने लाने का प्रयास कर रहे है। हमारा ध्येय है कि हमारी खबरें जनसरोकारी हो, निष्पक्ष हों, सकारात्मक हो, रचनात्मक हो, पाठकों तथा दर्शकों का मार्गदर्शन करने में सहायक हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *