40 लाख की रकम की लिए भाइयो ने रचा चोरी का झूठा नाटक

उधम सिंह नगर , 40 लाख की बीमे की रक़म हड़पने के लिये चार सगे भाइयों ने फर्जी चोरी की घटना को अंजाम दे डाला जिसका नतीजा चारो सगे भाइयों को जेल की हवा खानी पड़ी।

लालच ने चंद बीमे की रक़म हड़पने के लिये एक शातिर चोर बना डाला । पुलिस ने चारों भाइयों को ग्रिफ्तार कर ट्रक बरामद कर जेल भेज दिया है ।

जनपद उधम सिंह नगर के किलखेड़ा थाना पुलिस ने दर्ज हुई 400 से अधिक गेहूं के बोरे व ट्रक की चोरी की सूचना पर कार्य करते हुए चोरी की रिपोर्ट लिखाने वाले ट्रक मालिक व चालक को ही कर लिया है । दरअसल कुछ दिन पूर्व किला खेड़ा थाना के बेरिया गांव के एक व्यक्ति के घर आए एक रिश्तेदार ने मुकदमा दर्ज करवाया था।

जिसमें उसने बताया था कि 400 से अधिक बोरे व ट्रक बेरिया गांव से चोरी हो गया जिस पर पुलिस ने अलग-अलग टीमें बनाकर काम कर रही थी । इस पर सफलता नही मिलते पर पुलिस ने टाटा मोटर्स के तकनीकी विभाग से संपर्क किया जिस पर यह पता चला कि इस व्यक्ति ने ट्रक चोरी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी वह गत जुलाई में नेपाल में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था

तथा उस पर अत्यधिक जुर्माना लगा था ट्रक मालिक ने बीमे की धनराशि हड़पने के लिए दूसरे ट्रक पर नेपाल में हुए दुर्घटनाग्रस्त ट्रक की नंबर प्लेट लगाकर उत्तर प्रदेश के एक व्यक्ति से 400 से अधिक कट्टे गेहूं के पंजाब के लिए भरे और उस गेहूं को उत्तर प्रदेश के ही एक सीड प्लांट में बेच दिया।

ट्रक लेकर वह किला खेड़ा थाना के बेरिया गांव में पहुंचा जहां से उसका भाई तथा अन्य लोग ही ट्रक को वापस लेकर चले गए पुलिस के तकनीकी विभाग तथा टाटा मोटर्स कंपनी से संपर्क करने पर पता चला कि दुर्घटनाग्रस्त ट्रक की जीपीएस लोकेशन जुलाई माह की नेपाल की दिखा रहा था तथा दूसरे अन्य ट्रक की लोकेशन बेरिया गांव तक आई थी तथा वर्तमान लोकेशन ट्रक मालिक के घर पर ही मिली इस पर पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तब ट्रक मालिक व उसके चालक भाई तथा अन्य सहयोगियों के साथ पुलिस ने धर दबोचा।

Category: उत्तराखण्ड

About ई टीवी उत्तराखंड

Etv Uttarakhand हम डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा समाचारों, विचारों, साक्षात्कारों की नई श्रृंखला के साथ- साथ खोजी ख़बरों को कुछ हटकर पाठकों तथा दर्शकों के सामने लाने का प्रयास कर रहे है। हमारा ध्येय है कि हमारी खबरें जनसरोकारी हो, निष्पक्ष हों, सकारात्मक हो, रचनात्मक हो, पाठकों तथा दर्शकों का मार्गदर्शन करने में सहायक हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *