आयुक्त कुमाऊॅ मण्डल राजीव रौतेला ने की धामों की समीक्षा

अल्मोड़ा- आयुक्त कुमाऊॅ मण्डल राजीव रौतेला ने आज वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से जागेश्वर धाम व इसके आसपास संरक्षित स्मारकों में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) द्वारा किये जाने वाले कार्यों के सम्बन्ध में समीक्षा की। उन्होंने इस दौरान एएसआई के अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्रथम चरण हेतु जो प्रस्तावित कार्य है उन्हें 30 नवम्बर तक करना सुनिश्चित करें।

इस दौरान उन्होंने कहा कि खण्डित व जीर्ण-शीर्ण छोटे मन्दिरों का जीर्णोद्वार कार्य, मन्दिर को वर्षा के पानी से हो रहे नुकसान से बचाने हेतु कार्य, टूटे-फूटे दरवाजों की मरम्मत का कार्य, विद्युत लाईन की मरम्मत का कार्य, सुरक्षा दीवार और मन्दिर परिसर में लगे बाहरी पटालों के स्थान पर स्थानीय पटालों का इस्तेमाल तथा परिसर व मार्गों में टूटे-फूटे पटालों की मरम्मत का कार्य किया जाना है इसके लिए आयुक्त ने कहा कि एएसआई के अधिकारी इन सभी कार्यों को 30 नवम्बर तक पूर्ण करा लें। उन्होंने कहा कि मन्दिर समिति व पुजारी प्रतिनिधियों के साथ आपसी समन्वय बनाकर जो कार्य किये जाने है उन्हें कराना सुनिश्चित किया जाय।

इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि मन्दिर परिसर में लाईटिंग हेतु अनुमति प्रदान करने के लिये एएसआई के अधिकारियों से अनुरोध किया। जिस पर उन्हें बताया गया कि मन्दिर में बिना कील आदि का इस्तेमाल कर लाईटिंग की जा सकती है। इसके अलावा वी0सी0 में जिलाधिकारी ने मन्दिर के मुख्य प्रवेश द्वार पर स्थित तोरणद्वार का निर्माण कराये जाने का अनुरोध किया।

इस पर एएसआई के अधिकारियों ने कहा कि इसका एक प्रस्ताव बनाकर भेज दिया जाय जिससे स्वीकृति दिलायी जा सके। इसके अलावा आयुक्त ने अन्य विषयों पर भी जिलाधिकारी से जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी मोनिका, जागेश्वर मन्दिर समिति के प्रबन्धक भगवान भटट, उपाध्यक्ष गोविन्द गोपाल व पुजारी प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Category: कुमाऊं

About ई टीवी उत्तराखंड

Etv Uttarakhand हम डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा समाचारों, विचारों, साक्षात्कारों की नई श्रृंखला के साथ- साथ खोजी ख़बरों को कुछ हटकर पाठकों तथा दर्शकों के सामने लाने का प्रयास कर रहे है। हमारा ध्येय है कि हमारी खबरें जनसरोकारी हो, निष्पक्ष हों, सकारात्मक हो, रचनात्मक हो, पाठकों तथा दर्शकों का मार्गदर्शन करने में सहायक हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *