AIIMS के डॉक्टरों ने बनाया कीर्तिमान

ऋषिकेश: दिल्ली एम्स और ऋषिकेश एम्स के डॉक्टरों ने संयुक्त रूप से 12 वर्षीय बच्ची की सफल सर्जरी की है. इससे पहले उत्तराखंड के किसी भी संस्थान में ऐसी सर्जरी नहीं की गई थी. डॉक्टरों ने किशोरी के दायीं ओर के सीने से बड़ी गांठ को सफलता पूर्वक निकाल दिया है. इस तरह की सर्जरी के लिए लोगों को अन्य राज्यों में जाना पड़ता था.

जिससे उनके समय के साथ-साथ पैसे भी अधिक खर्च होते थे. लेकिन अब इस सफल सर्जरी के बाद लोगों को लंबा सफर तय नहीं करना पड़ेगा.एम्स के डॉक्टरों ने बताया कि मुजफ्फरनगर निवासी एक 12 वर्षीय किशोरी के सीने में दायीं ओर बड़ी गांठ थी, जिसने पूरे दाएं फेफड़े को दबाया हुआ था. इस वजह से किशोरी को सांस लेने में तकलीफ होती थी.

हर वक्त असहनीय दर्द रहता था. एम्स ऋषिकेश में मंगलवार को दिल्ली एम्स के थोरेसिक सर्जन डॉ. विपलव मिश्रा के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम ने इस ऑपरेशन को सफलतापूर्वक अंजाम दिया.ऋषिकेश एम्स के थोरेसिक सर्जरी के प्रभारी डॉ. मधुर उनियाल ने बताया कि बच्ची ऑपरेशन के बाद पूरी तरह से स्वस्थ्य है, मरीज को अस्पताल से जल्दी ही छुट्टी दे दी जाएगी.

Category: ऋषिकेश

About ई टीवी उत्तराखंड

Etv Uttarakhand हम डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा समाचारों, विचारों, साक्षात्कारों की नई श्रृंखला के साथ- साथ खोजी ख़बरों को कुछ हटकर पाठकों तथा दर्शकों के सामने लाने का प्रयास कर रहे है। हमारा ध्येय है कि हमारी खबरें जनसरोकारी हो, निष्पक्ष हों, सकारात्मक हो, रचनात्मक हो, पाठकों तथा दर्शकों का मार्गदर्शन करने में सहायक हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *