आंकड़ों की बाजीगरी से जैविक खेती ने मचाया धमाल……नेगी

विकास नगर – जनसंघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जी0एम0वी0एन0 के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने बयान जारी कर कहा कि प्रदेश को लुटेरों के हाथों में सौंपने का नतीजा ये हुआ कि प्रदेश में जहाँ किसान खेती से विमुख हो रहा है वहीं सरकारी आंकड़ों में लगातार इजाफा हुआ है।

 

निजी संस्थाएं हुई खेती से विमुख।
परिषद (सरकार) के माध्यम से लगातार हो रहा खेती में फर्जी इजाफा।
सैकड़ों करोड़ का बजट लगाया जा रहा ठिकाने।
सी0बी0आई0 जाँच हो तो मंत्री/अधिकारी जायेंगे जेल।

नेगी ने कहा कि अगर जैविक खेती के आंकड़ों की बात की जाये तो वर्ष 2015-16 में परिषद के माध्यम से १५४९६ है0 एवं 25716 कृषक जुड़े थे तथा वहीं दूसरी ओर निजी संस्थाओं के माध्यम से 5022है0 एवं 6219 कृषक जुड़े थे।
आश्चर्यजनक तरीके से आंकड़ों में बाजीगरी कर खेती में अप्रत्याशित बढौत्तरी दर्शायी गयी यानि वर्ष 2016-17 में परिषद के माध्यम से 22565है0 में खेती होने लगी तथा 44262 कृषक जुड़े तथा वहीं अगर निजी संस्थाओं की बात करें तो इस वर्ष इसका आंकड़ा शून्य हो गया यानि निजी क्षेत्र में किसान इस खेती से विमुख हो गये। आलम यह है कि निजी क्षेत्र में काम करने वाले कृषक आज ढूंढे नहीं मिल रहे हैं।
नेगी ने कहा कि जैविक खेती के नाम पर प्रतिवर्ष सैकड़ों करोड़ रूपया ठिकाने लगाया जा रहा है, जबकि धरातल पर ढाक के तीन पात। हैरानी की बात यह है कि पहाड़ों से लोग पलायन कर चुके तो खेती कौन कर रहा !
मोर्चा ने कहा की, कि अगर इस मामले की सी0बी0आई0 जाँच हो जाये तो मंत्री से लेकर अधिकारी/कर्मचारी जेल की सलाखों में होंगे।

Category: ख़ुलासा

About ई टीवी उत्तराखंड

Etv Uttarakhand हम डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा समाचारों, विचारों, साक्षात्कारों की नई श्रृंखला के साथ- साथ खोजी ख़बरों को कुछ हटकर पाठकों तथा दर्शकों के सामने लाने का प्रयास कर रहे है। हमारा ध्येय है कि हमारी खबरें जनसरोकारी हो, निष्पक्ष हों, सकारात्मक हो, रचनात्मक हो, पाठकों तथा दर्शकों का मार्गदर्शन करने में सहायक हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *