रुड़की: प्रमाण-पत्र बनवाने के नाम पर कर्मचारी कर रहे वसूली

रुड़की: मंगलौर के नारसन ब्लॉक में प्रमाण-पत्र के नाम पर छात्रों से जमकर उगाही की जा रही है. यहां छात्र-छात्राओं से प्रमाण पत्र बनाने के नाम पर सौ-सौ रुपए लिये जा रहे हैं और ये सब जिम्मेदार अधिकारियों की मौजूदगी में हो रहा है. प्रमाण-पत्र बनाने गये एक छात्र ने वसूली का पूरा वीडियो अपने मोबाइल में कैद किया है. जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि कर्मचारी किस तरह से प्रमाण-पत्र बनाने के एवज में रुपयों की मांग कर रहे हैं.

दरअसल, ये पूरा मामला मंगलौर विधानसभा का है. जहां नारसन ब्लॉक में राहुल नाम का एक कर्मचारी प्रमाण-पत्र बनाने के नाम छात्रों से उगाही कर रहा है. एक छात्र जब अपना प्रमाण-पत्र बनवाने के नारसन ब्लॉक पहुंचा तो प्रमाण पत्र बनाने वाले ने इसकी एवज में पैसों की मांग की. जिसका कि छात्र ने विरोध किया. इस दौरान छात्र और कर्मचारियों के बीच बहस भी हुई. जिसे छात्र ने अपने मोबाइल में कैद कर लिया.

जब छात्र कर्मचारियों की ये हरकत मोबाइल कैमरे में कैद कर रहा था तभी कुछ की नजर कैमरे पर पड़ गई. जिसके बाद ब्लॉक कर्मचारियों ने छात्र को अंदर ही पीटना शुरू कर दिया. छात्र ने जब गिड़गिड़ा कर सहायक विकास अधिकारी से इसकी शिकायत की तो वो भी उसे पाठ पढ़ाने लगे. बता दें कि कोई भी विभाग प्रमाण-पत्र बनाने की रसीद आवेदक को देता है लेकिन यहां पैसे लिये जाने के बाद भी आवेदक को किसी प्रकार की रसीद नहीं दी गई. उल्टा उसके पूछने और विरोध करने पर उसकी पिटाई कर दी गई.

बता दें कि शासन से किसी भी प्रमाण पत्र की रसीद किसी भी आवेदक को दी जाती है उस पर शुल्क भी लिखा रहता है. ऐसे में जब एक परेशान छात्र अपना प्रमाण-पत्र बनवाने गया तो उसे कोई भी रसीद नहीं दी गयी बल्कि अपनी करतूत मोबाइल में कैद होने से नाराज़ राहुल नामक कर्मचारी और उसके साथियों ने छात्र की ही जमकर धुनाई कर दी.

Category: उत्तराखण्ड

About ई टीवी उत्तराखंड

Etv Uttarakhand हम डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा समाचारों, विचारों, साक्षात्कारों की नई श्रृंखला के साथ- साथ खोजी ख़बरों को कुछ हटकर पाठकों तथा दर्शकों के सामने लाने का प्रयास कर रहे है। हमारा ध्येय है कि हमारी खबरें जनसरोकारी हो, निष्पक्ष हों, सकारात्मक हो, रचनात्मक हो, पाठकों तथा दर्शकों का मार्गदर्शन करने में सहायक हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *