ग्रामीणों द्वारा रोजगार की मांग को लेकर तहसील मुख्यालय मोरी में धरना-प्रदर्शन जारी

राजेन्द्र सिह चौहान मोरी/तयूनी

सतलुज जल विद्युत निगम की निर्माणाधीन 60 मेगावाट की नैटवाड मोरी जलविद्युत् परियोजना में सुरग खोदने के लिए भारी विस्फोटों को बंद करवाने के लेकर ग्रामीणों द्वारा किया जा रहा धरना-प्रदर्शन कई दिनों से जारी है ।वही परियोजना प्रभावित बैनोल गाँव के ग्रामीणों द्वारा रोजगार की मांग को लेकर तहसील मुख्यालय मोरी में धरना-प्रदर्शन जारी

है।
सतलुज जल विद्युत निगम द्वारा क्षेत्र में 60 मेगावाट की नैटवाड मोरी जलविद्युत् परियोजना का निर्माण कार्य जे पी कंस्ट्रक्शन कम्पनी द्वारा करवाया जा रहा है। इसके लिए नैटवाड में सुरग का निर्माण किया जा रहा है। सुरग खोदने के लिए भारी विस्फोटों के प्रयोग से आस पास का पूरा इलाका थर्रा रहा है।यही कारण है कि निर्माण स्थल से महज पांच सौ मीटर की दूरी पर नैटवाड गाँव के कई मकानों पर दरारें आ गयी है।नैटवाड गाँव के पोखु देवता के माली किताब सिह ने बताया कि विस्फोटक के कम्पन से गाँव में जयपाली देवी के दो मंजिले मकान की ऊपरी मंजिल क्षतिग्रस्त हो गयी है। जबकी रमेश गोबिन्द मुर्ति सिह सोवन सुरतमा देवी आदि कई ग्रामीणों के मकानों में दरारें आ रखी हैं । जिससे गुसाए ग्रामीणों ने विगत दो तीन दिनों से परियोजना का कार्य बंद करा कर धरना दे रहे हैं ।
उधर परियोजना प्रभावित बैनोल गाँव के ग्रामीण भी आश्वासन के अनुरूप प्रभावितों को रोजगार नही दिये जाने पर मोरी तहसील मुख्यालय में लगातार धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं ।उनहोंने भुमि अधिग्रहण के समय दिये गये अशवासनों के अनुरूप प्रभावित परिवारों के एक सदस्य को रोजगार मिलने तक धरना-प्रदर्शन व आन्दोलन जारी रखने का ऐलान किया है।
नैटवाड के प्रधान कमल दास सरिता देवी सुरतमा नजरी देवी पूनम रेखा गीता मीरा भरत सिह कनवीर सिह सोवेनदर आदि दर्जनो ग्रामीण धरने पर बैठे हैं ।
समपर्क करने पर—–
परियोजना निर्माण में मानकों के अनुरूप ब्लास्टिग करने के निर्देश हैं । भवनों में दरारें उबरने के किरणों की पडताल के लिए जांच कमेटी गठित कर दी गयी है शीघ्र ही प्रभावितों से वार्ता कर समाधान निकाला जायेगा।
देवेन्द्र वढेरा
महा प्रबंधक सतलुज जल विद्युत निगम
महा प्रबंधक देवेन्द्र वढेरा के नेतृत्व में परियोजना के अधिकारीयोंने ग्रामीणों से वार्ता की लेकिन वे मानने को तैयार नहीं ।प्रभावितों ने डी एम की मौजूदगी में ही वार्ता की मांग पर अडे रहे । इस समबन्ध में अधिकारियों से वार्ता की जा रही है।
कमलेश भारद्वाज
सहायक प्रबंधक सतलुज जल विद्युत निगम
क्या कहते हैं अधिकारी सतलुज जल विद्युतपरियोजना के कार्यो का जिम्मा देख रहे परियोजना उप प्रबंधक आर के जगोता ने बताया कि परियोजना में नैटवाड गाँव गैचाण गाँव व बैनोल गाँव के 94परिवार प्रभावित हुए हैं ।जिनमे बैनोल के 27 नैटवाड के 23 व गैचाण गाँव के 6 लोगों को अभी तक विभिन्न पदों पर रोजगार दिया गया है ।इसके साथ ही गाँवों में स्वास्थय पेयजल शिक्षा सामुदायिक विकास के कई कार्य संचालित व प्रस्तावित हैं । वही ब्लास्टिग के लिए मानकों के अनुरूप ही विस्फोट करने के निर्देश दियें है। ब्लास्टिग से नैटवाड गाँव में हो रहे नुकसान की जांच के लिए स्थानीय प्रशासन के साथ कमेटी बनाई जा रही है जो जांच कर जल्दी रिपोर्ट देगी ।
राजेन्द्र सिह चौहान मोरी/तयून

Category: उत्तराखण्ड

About ई टीवी उत्तराखंड

Etv Uttarakhand हम डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा समाचारों, विचारों, साक्षात्कारों की नई श्रृंखला के साथ- साथ खोजी ख़बरों को कुछ हटकर पाठकों तथा दर्शकों के सामने लाने का प्रयास कर रहे है। हमारा ध्येय है कि हमारी खबरें जनसरोकारी हो, निष्पक्ष हों, सकारात्मक हो, रचनात्मक हो, पाठकों तथा दर्शकों का मार्गदर्शन करने में सहायक हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *