हल्द्वानी में टीबी मंच द्वारा कार्यशाला का आयोजन

हल्द्वानी , जिला स्वास्थ्य समिति एवं जिला टीबी मंच की ओर से टीबी कार्यशाला का आयोजन जिलाधिकारी सविन बंसल की अध्यक्षता में किया गया । इस अवसर पर टीवी मरीजों, चिकित्सकों सहित कई वक्ताओं ने क्षय रोग से संबंधित विचार व्यक्त किए।

जिलाधिकारी ने क्षय रोग की दवा खाकर पूर्ण रूप से स्वस्थ हो चुके 5 व्यक्तियों को प्रतीक चिन्ह देकर टीवी चैंपियन के रूप में सम्मानित किया गया। जिला अधिकारी ने कहा कि टीबी लाईलाज बीमारी नहीं है, इसको जड़ से खत्म किया जा सकता है। इसका सरकारी अस्पतालों एवं डाॅट्स सेंटरों में इसका निःशुल्क ईलाज उपलब्ध है।

उन्होंने कहा कि मरीज को स्वस्थ होने के लिए समय से दवाई खाने के साथ ही अपने भोजना का विशेष ध्यान रखना चाहिए तथा भोजन में पोष्टिक आहार ग्रहण करना चाहितए ताकि इम्युनिटी पावर मजबूत हो।

उन्होंने कहा कि पोषक तत्वों की कमी के कारण रोग प्रतिरोधन क्षमता कमजोर पड़ जाती है जिससे कई तरह की बीमारियाॅ होने की संभावना भी बढ़ जाती है। उन्होंने बताया कि टीबी का इलाज लंबा चलता है, इसे ठीक होने में 6 महीने से 2 साल तक का समय लग सकता है।

उन्होंने बताया कि अगर पूरी तरह ठीक होने से पहले टीबी का इलाज छोड़ दिया जाए तो बैक्टीरिया में दवाओं के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो जाती है और इलाज काफी मुश्किल हो जाता है क्योंकि इस दशा में आम दवाएं असर नहीं करतीं।

उन्होंने बताया कि टीबी के मरीजों के शीघ्रता से स्वस्थ होने के लिए निःशुल्क दवाओं के साथ ही ईलाज की पूरी अवधि के दौरान पोष्टिक आहार हेतु 500 रूपये प्रतिमाह दिए जाते हैं। उन्होंने कहा कि हम सभी को मिलजुलकर इस बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए लोगों को जागरूक करना होगा तथा जो व्यक्ति रोग से ग्रस्त हैं उन्हें समय से दवाई खिलाने एवं उपलब्ध कराने की आवश्यकता है।

मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ.भारती राणा ने बीमारी के फैलने के कारण, लक्षण, जाॅच एवं उपचार के बारे में विस्तार से जानकारी दी।कार्यक्रम में जिला विकास अधिकारी रमा गोस्वामी, के अलावा डाॅ.रश्मि पन्त, डाॅ.डीसी पुनेरा, डाॅ.टीके टम्टा, डाॅ.आरके जोशी के अलावा अन्य लोग उपस्थित थे।

Category: कुमाऊं

About ई टीवी उत्तराखंड

Etv Uttarakhand हम डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा समाचारों, विचारों, साक्षात्कारों की नई श्रृंखला के साथ- साथ खोजी ख़बरों को कुछ हटकर पाठकों तथा दर्शकों के सामने लाने का प्रयास कर रहे है। हमारा ध्येय है कि हमारी खबरें जनसरोकारी हो, निष्पक्ष हों, सकारात्मक हो, रचनात्मक हो, पाठकों तथा दर्शकों का मार्गदर्शन करने में सहायक हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *